pm kisan samman nidhi yojana contact number

pm kisan samman nidhi yojana contact number

नई दिल्ली:  देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने देश के किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए पिछले साल पीएम किसान निधि योजना शुरु की थी। जिसका लक्ष्य देश के किसानों को खेती से जुड़ी समस्यों के लिए उन्हें कुछ नकदी देना था। फिलहाल इस योजना के जरिए देश के किसानों के खाते में करोड़ो रुपए भेजे जा रहे हैं। ऐसे में अगर आप किसान हैं और आप इस योजना का लाभ नहीं उठा पा रहे हैं तो आईए हम आपकी इसमें पूरी मदद करेंगे।

बता दें सरकार ने इसके लिए एक टोल फ्री नंबर दिया है मगर उससे पहले हम आपको बता देते हैं कि इस योजना के तहत सरकार देश के किसानों को कैसे लाभ देने जा रही है।

महाराष्ट्र में संवैधानिक संकट: राज्यपाल ने गेंद ECके पाले में डाली, उद्धव का पेंच फंसा

क्या है पूरी स्कीम
बता दें इस स्‍कीम के तहत सरकार कुल सालाना 6000 रूपये की धनराशि लाभार्थी किसान को दी जाती है। प्रत्येक लाभार्थी को सरकार 2 हजार रूपये की प्रत्‍येक किस्‍त हर 4 महीने के अन्‍तराल पर देती है। यह पैसा सरकार किसानो के खातो में Direct Benefit Transfer के माध्यम से भेजती है। लाभ लेने के लिए किसान को किसान योजना के लिए अपना रजिस्‍ट्रेशन करवाना होता है। अगर रजिस्‍ट्रेशन करवाने के बाद भी लाभ न मिले तो उसके लिए पीएम किसान हेल्‍पलाइन नबंर जारी किए गए है।
PM किसान सम्मान निधि योजना: खाते में पैसे आने में हो रही है दिक्कत तो यहां करें फोन

पीएम हेल्प डेस्क का किया हा गठन
गौरतलब है कि देश में ऐसे बहुत सारे किसान हैं जो कि इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं मगर किसी कारणवश रजिस्ट्रेशन कराने के बावजूद भी उनके खाते में पैसा नहीं आता है तो ऐसे लोगों की मदद के लिए सरकार ने यह नंबर जारी किया है। इसके जरिए आप अपनी दिक्कतों से सरकार को रुबरु करा सकते हैं। सरकार ने इसके लिए अलग से पीएम किसान हेल्‍प डेस्‍क (PM-Kisan help desk) बनाई है और उसी के अंतर्गत एक ईमेल (Email) – [email protected] आई भी बनाई है जिस पर मदद के लिए संपर्क किया जा सकता है।

इसके अलावा सरकार ने कुछ फोन नंबर भी जारी किए हैं जिनके जरिए भी सरकार से मदद ले सकते हैं।

पीएम किसान हेल्‍पलाइन नबंर

1. 155261
2. 0120-6025109
3. 1800115526 (टोल फ्री नबंर)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top