MSME Sathi Loan Apply Online

यूपी MSME लोन मेला: ऑनलाइन आवेदन रोजगार संगम लोन मेला, Apply Online

WWW.SARKARIYOJNAA.IN

हम आपको यूपी एमएसएमई लोन मेला के बारे में बता रहे हैं और यह बताएंगे कि इसमें ऑनलाइन आवेदन कैसे करा जाता है उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने MSME Sathi Loan App ऑनलाइन ऋण mela 2020 आवेदन पंजीकरण फॉर्म diupmsme.upsdc.gov.in पर शुरू किया है जिसमें  MSME 2,000 करोड़ रुपये तक के ऋण के लिए आवेदन कर सकते हैं। सुविधाओं, लाभों, दस्तावेजों की सूची की आवश्यकता और यूपी में ऑनलाइन ऋण मेले के लिए पात्रता मानदंड इन यह सब के बारे में आज हम आपको बता रहे हैं।

यह एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत सूक्ष्म उद्योग ,मध्यम उद्योग ,लघु उद्योग करने वाले उद्यमी आते है | इस योजना के तहत देश के सूक्ष्म ,मध्यम ,लघु  उद्यमियों के व्यवसाय में   आर्थिक विकास को  बढ़ावा देने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 36,000 व्यवसायिक व्यक्तियों को ₹ 2000 करोड़ का लोन देकर  आर्थिक सहायता प्रदान किया जायेगा | इन तीनों व्यापार के क्षेत्र में यह एक प्रकार का रीड के हड्डी का कार्य करता है , जिसके बिना कुछ भी संभव नहीं हो सकता है |

उत्तर प्रदेश एमएसएमई लोन मेला योजना

केंद्र सरकार द्वारा शुरू किये गए आर्थिक पैकेज के 24 घंटे के भीतर ही उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में एमएसएमई क्षेत्र के 56 हजार से अधिक उद्यमियों के लिए MSME साथी पोर्टल और Mobile App लॉन्च कर दिया है।MSME साथी पोर्टल और Mobile App की लोंचिंग के साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा 56 हजार 754 उद्यमियों को एकमुश्त दो हजार करोड़ के लोन भी बांटे गए है | जिन उद्यमियों ने अभी तक पंजीकरण नहीं करवाया है वह जल्द से जल्द अपना पंजीकरण करवा ले | और राज्य सरकार द्वारा लोन प्राप्त कर सकते है |

UP सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग (MSME) Loan Mela

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग (MSME) के लिए UP Loan मेला के लिए ऑनलाइन आवेदन भरने की प्रक्रिया 14 मई से शुरू होगी और 20 मई 2020 को समाप्त होगी। UP सरकार ने ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से पहले दिन 36,000 MSME उद्यमियों को ऋण प्रदान करने की व्यवस्था की है। ये एमएसएमई ऑनलाइन ऋण उन बैंकों के माध्यम से उपलब्ध कराए जाएंगे जिनसे सरकार ने टाई-अप किया है। तो इससे परेशानी मुक्त ऋण सेवा प्राप्त करने की प्रक्रिया आसान हो जाएगी। यह मेगा यूपी ऑनलाइन ऋण मेला योजना एमएसएमई की बड़ी संख्या में मदद करेगी और इसके अनुसार राज्य के लोगों को लाभान्वित करेगी।

MSME के प्रकार

एमएसएमई को तीन श्रेणियों में बाटा गया है |जिसकी पूरी जानकारी हमने नीचे दी गयी है |

    • सूक्ष्म उद्योग – इस सूक्ष्म उधोग के अंतर्गत वह व्यापारिक कंपनी आती है जो  1 करोड़ का निवेश करके निजना टर्नओवर 5 करोड़ है |
    • लघु उद्योग – इस उद्योग के अंतर्गत   10 करोड़ का निवेश करने वाली उद्योग है जिनका टर्नओवर 50 करोड़ है |
  • मध्यम उद्योग – इस मध्यम उद्योग के अंतर्गत 20 करोड़ रूपये का निवेश करके 100 करोड़ का टर्नओवर तक पाने वाले बड़े उद्योग और कंपनी आती है |

यूपी MSME लोन मेला क्या है ?

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत घोषित MSME उपायों का स्वागत करते हैं। इसके अनुसार यूपी सरकार MSME Sathiपोर्टल पर diupmsme.upsdc.gov.in  पर यूपी ऑनलाइन ऋण मेला 2020 ऑनलाइन आवेदन / पंजीकरण फॉर्म आमंत्रित करना शुरू करेगी।  एमएसएमई क्षेत्र के लिए यह ऑनलाइन ऋण मेला स्थानीय (स्वदेशी) उत्पादों के उत्पादन पर ध्यान केंद्रित करेगा और उन्हें वैश्विक ब्रांडों के साथ बदलेगा।  योगी ऑनलाइन ऋण मेला योजना सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों के विकास के लिए एक प्रमुख बढ़ावा प्रदान करेगी।

इससे पहले 13 मई 2020 को केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने इस योजना की घोषणा की थी। आत्मनिर्भर   भारत अभियान के तहत एमएसएमई क्षेत्र के लिए 3 लाख करोड़ का पैकेज। यूपी ऑनलाइन ऋण मेला 2020 के लिए, राज्य सरकार रुपये साझा करेगी।  व्यापार धारकों के साथ लगभग 2000 करोड़ लोन प्रावधान है। 14 मई 2020 से 20 मई 2020 तक, यूपी सरकार।  MSME क्षेत्र के लिए एक ऑनलाइन ऋण मेला शुरू करेगा जिसमें लगभग 36,000 व्यवसायिक व्यक्तियों को ₹ 2000 करोड़ का ऋण दिया जाएगा।

यूपी एमएसएमई लोन योजना का उद्देश्य

जैसे की आप सभी लोग जानते है कि पूरा भारत देश कोरोना वायरस के संकट से गुज़र रहा है | इस कोरोना वायरस के कारण देश में काफी लोग ग्रसित है | इस कोरोना वायरस को कम करने के लिए और देश के लोगो की सुरक्षा के लिए प्रधानमंत्री जी के द्वारा पूरे देश में 17 मई तक का लॉक डाउन कर दिया गया है | इस लॉक डाउन की वजह से देश के काफी लोगो को अपना व्यवसाय चलाने में दिक्कत हो रही है इसी समस्या को देखते हुए यूपी के मुख्यमंत्री जी ने यूपी एमएसएमई लोन योजना को शुरू किया है इस योजना के ज़रिये उत्तर प्रदेश के सूक्ष्म ,मध्यम , लघु उद्यमियों को उनके व्यापार  में  विकास के लिए लोन देकर एक प्रमुख बढ़ावा प्रदान करेगी।जिससे उनके व्यापार में बढ़ावा देकर मजदूरों को रोजगार प्रदान करना |

मुख्या विषेशता यूपी MSME लोन मेला

योजना का नाम यूपी MSME लोन मेला
घोषणा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा
राज्य उत्तर प्रदेश
रजिस्ट्रेशन मोड ऑनलाइन
आरंभ तिथि 14 मई सन 2020
अंतिम तिथि 20 मई सन 2020
लाभार्थी MSME सेक्टर
कुल बजट 2000 करोड़ रुपये
आधिकारिक वेबसाइट http://diupmsme.upsdc.gov.in/

दस्तावेजों की सूची

यहां यूपी ऑनलाइन ऋण मेला 2020 के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए निम्नलिखित दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी।

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • बैंक पासबुक की फोटो कॉपी
  • बैंक अकाउंट नंबर
  • यूपी एमएसएमई ऑनलाइन ऋण मेला 2020 के लिए पात्रता 

    यूपी एमएसएमई ऑनलाइन ऋण मेला 2020 के लिए पंजीकरण / आवेदन पत्र भरने से पहले सभी आवेदकों को निम्नलिखित पात्रता होनी चाहिए।

    • एक स्थापित व्यवसाय जो लंबी अवधि से चालू होना पाया जाऐ।
    • आपका व्यवसाय न्यूनतम टर्नओवर एक निर्धारित सीमा से घोषित किया चाहिए।
    • ट्रस्ट, गैर सरकारी संगठन और धर्मार्थ संस्थान इस योजना से ऋण प्राप्त नहीं कर सकते हैं।
    • व्यवसाय को ब्लैक लिस्टेड कंपनियों की सूची में नहीं आना चाहिए।

    यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि यह एक मान्य पात्रता मानदंड है और अभी तक इसकी पुष्टि नहीं की गई है।  जैसे ही इस यूपी एमएसएमई ऑनलाइन ऋण मेले का पूरा विवरण आएगा हम इसे यहां अपडेट करेंगे।

    यूपी एमएसएमई ऋण मेला 2020 के तहत योजनाएं

    • मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना: इस योजनाके ज़रिये राज्य के युवा श्रमिकों को स्वरोजगार देना है। यह योजना उन लोगों के लिए 25 लाख तक का ऋण देती है जो उद्योग स्थापित करने के लिए, और सेवा क्षेत्र के लिए 10 लाख तक का ऋण देते हैं।
    • वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट मार्जिन मनी योजना: इस योजना ने कुल योजना लागत का 20% वित्त पोषण प्रदान किया, जो कि अधिकतम 50 लाख या अधिकतम 6.25 लाख है। इस योजना का लाभ पाने के लिए आवेदकों को यूपी का नागरिक होना चाहिए, और व्यक्ति की आयु 18-40 वर्ष से कम होनी चाहिए।
    • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना: यह योजना इस प्रकार के व्यवसायों में कुम्हार, बुनकर, बढ़ई, लोहार, नाई आदि को प्रशिक्षण देगी। इस योजना के तहत 250 लोग प्रशिक्षित होंगे, और यह टारिंग लोगों के लिए 6-दिवसीय प्रशिक्षण है।
    • वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट ट्रेनिंग एंड टूल-किट योजना: कुशल लोगों को आरपीएल के माध्यम से प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा और उन्हें इसके लिए प्रमाणपत्र भी प्राप्त होंगे। राज्य के अकुशल व्यक्तियों को दस दिनों का प्रशिक्षण मिलेगा, और इस कोचिंग सत्र के दौरान प्रत्येक दिन 200 रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा।

    MSME साथी ऐप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रोसेस

    ऑनलाइन आवेदन कैसे करें और यूपी ऑनलाइन ऋण मेला 2020 आवेदन पंजीकरण फॉर्म भरने की पूरी प्रक्रिया बता रहे हैं।

    • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट जाएं होमपेज पर, नीचे दिए गए  मैन मेनू में मौजूद “लॉग इन” टैब के तहत “आवेदक लॉग इन” लिंक पर क्लिक करना होगा। या MSME Sathi App डाउनलोड करे और उसके माध्यम से आवेदन करे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top